वनडे की एक पारी में सबसे ज्यादा गेंद खेलने वाले टॉप 5 बल्लेबाज

वनडे क्रिकेट की शुरुआत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 1971 में हुई। टेस्ट क्रिकेट के प्रभाव के कारण शुरुआतों दौर में वनडे क्रिकेट में काफी धीमी पारियां देखने को मिली। वनडे क्रिकेट की एक पारी में अगर सबसे ज्यादा गेंद खेलने वाले टॉप 5 बल्लेबाजों का जिक्र किया जाए तो उसमें रोहित शर्मा के अलावा बाकी सभी रिकॉर्ड पहले तीन वर्ल्ड कप में बने। हालाँकि रोहित शर्मा के अलावा सभी रिकॉर्ड 60 ओवर वाले मैच में बने।

वनडे क्रिकेट में अभी तक सिर्फ एक बल्लेबाज ने ही एक पारी में 200 से ज्यादा गेंदें खेली हैं और वह हैं न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ग्लेन टर्नर। टर्नर ने 1975 वर्ल्ड कप में ईस्ट अफ्रीका के खिलाफ 201 गेंदों में 171 रनों की नाबाद पारी खेली थी।
आइये नज़र डालते हैं वनडे की एक पारी में सबसे ज्यादा गेंद खेलने वाले टॉप 5 बल्लेबाजों पर:

# ग्लेन टर्नर, न्यूजीलैंड (201 गेंद vs ईस्ट अफ्रीका एवं 177 गेंद vs भारत, 1975)
1975 वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड के कप्तान ग्लेन टर्नर बेहतरीन फॉर्म में थे। उन्होंने ईस्ट अफ्रीका के खिलाफ बर्मिंघम में 201 गेंदों में 171 रनों की नाबाद पारी खेली थी, जिसकी बदौलत न्यूजीलैंड ने 60 ओवर में 309/5 का स्कोर बनाया था और जवाब में ईस्ट अफ्रीका की टीम 128/8 का स्कोर ही बना सकी।

1975 वर्ल्ड कप में ही भारत के खिलाफ मैनचेस्टर में ग्लेन टर्नर ने एक और शतकीय पारी खेली और 177 गेंदों में नाबाद 114 रन बनाये। भारत ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 230 रन बनाये थे, जिसके जवाब में न्यूजीलैंड ने 58.5 ओवर में 6 विकेट खोकर जीत हासिल की।

इस तरह वनडे क्रिकेट की एक पारी में सबसे ज्यादा गेंद खेलने के मामले में ग्लेन टर्नर पहले और दूसरे स्थान पर मौजूद हैं।

यह भी पढ़ें - टी20 में बल्लेबाजों को सर्वाधिक बोल्ड आउट करने वाले टॉप 5 गेंदबाज
# मोहसिन खान, पाकिस्तान (176 गेंद vs वेस्टइंडीज, 1983)
पाकिस्तान के मोहसिन खान ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 1983 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में 176 गेंदों में 70 रनों की धीमी पारी खेली थी। ओवल में पाकिस्तान की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 60 ओवर में 184/8 का मामूली स्कोर बनाया, जिसके जवाब में वेस्टइंडीज ने विवियन रिचर्ड्स के नाबाद 80 रनों की मदद से 48.4 ओवर में सिर्फ 2 विकेट खोकर जीत हासिल कर ली।


# सुनील गावस्कर, भारत (174 गेंद vs इंग्लैंड, 1975)
1975 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ सुनील गावस्कर की इस बेहद धीमी पारी की आज भी चर्चा होती है। लॉर्ड्स में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए डेनिस एमिस (137) के शतक की मदद से 60 ओवरों में 334/4 का विशाल स्कोर बनाया, जिसके जवाब में भारतीय टीम 60 ओवर में 132/3 का स्कोर ही बना सकी। सुनील गावस्कर ने उस पारी में 174 गेंदों का सामना किया, जिसमें उन्होंने सिर्फ 36 रन बनाये और नाबाद रहे।

# गॉर्डन ग्रीनिज, वेस्टइंडीज (173 गेंद vs भारत, 1979)
1979 वर्ल्ड कप के पहले मैच में वेस्टइंडीज ने भारत को 9 विकेट से बुरी तरह हराया था। बर्मिंघम में भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए गुंडप्पा विश्वनाथ के 75 रनों की 190 रन बनाए, जिसके जवाब में वेस्टइंडीज ने 51.3 ओवर में सिर्फ एक विकेट खोकर जीत हासिल कर ली। सर गॉर्डन ग्रीनिज ने 173 गेंदों में 106 रनों की नाबाद पारी खेली और टीम की जीत में मैन ऑफ द मैच चुने गए।

# रोहित शर्मा, भारत (173 गेंद vs श्रीलंका, 2014)
2014 में रोहित शर्मा ने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय की अभी तक की सबसे बड़ी पारी खेली। रोहित ने कोलकाता में श्रीलंका के खिलाफ 173 गेंदों में 264 रनों की बेहतरीन पारी खेली और अनोखा विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया। रोहित की इस पारी की बदौलत भारत ने 404/5 का विशाल स्कोर बनाया, जिसके जवाब में श्रीलंका की टीम रोहित के स्कोर को भी पार नहीं कर सकी और सिर्फ 251 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। 50 ओवर के मैच में सबसे ज्यादा गेंदें खेलने का रिकॉर्ड रोहित के ही नाम है।

यह भी पढ़ें - क्रिकेट इतिहास के सबसे बेहतरीन विकेटकीपर बल्लेबाज