देशभर में कोरोना फैलाने का दाग धोने में जुटी तबलीगी जमात

हिंदुस्तान की सनातन परंपरा रही है कि जिसने तहे दिल से अपनी गलती को स्वीकारा है। उसे इस देश ने माफ भी किया है हरियाणा के झज्जर से आज एक ऐसी सुखद खबर आई है जो देश के लिए संजीवनी बूटी का भी काम कर सकती है। देशभर में जानलेवा को रोना फैलाने का कलंक लगा बैठे तबलीगी जमात की ओर से पहली बार कोरोना काल में अच्छी पहल सामने आई है जो सराहनीय है दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज दोपहर ही देश के सभी धर्मों के लोगों के ठीक हुए कोरोना मरीजों से अपील की थी कि ठीक हो चुके मरीज चाहे वह किसी भी धर्म के हो अपना-अपना प्लाज्मा डोनेट करें क्योंकि कोरो ना के अंधकार में प्लाज्मा थेरेपी फिलहाल कारगर साबित हो रही है। दिल्ली में कई मरीज धीरे-धीरे ठीक भी हो रहे हैं केजरीवाल की इस अपील के फौरन बाद हरियाणा के झज्जर में कोरोनावायरस जैसी भयानक महामारी को हराकर ठीक हुए तबलीगी जमात के ही 129 सदस्यों ने अपना प्लाज्मा दान देने की पेशकश कर जमात के दामन में देशभर में कोरोनावायरस फैलाने का लगा दाग धोने के लिए अच्छी शुरुआत की है। सनद रहे झज्जर अस्पताल में निजामुद्दीन मरकज में शामिल तबलीगी जमात के 142 लोगों को कोरोना पॉजिटिव होने पर भर्ती कराया गया था जिनमें से हाल ही में 129 मरीज ठीक हो चुके हैं। इन्होंने ही अपना प्लाज्मा अब दान देकर दूसरों की जिंदगी बचाने की अच्छी पहल की है दूसरी तरफ हरियाणा में तबलीगी जमात के इस पहल का स्वागत करते हुए अब दिल्ली में भी तबलीगी जमात के ठीक हुए मरीजों से अपना प्लाज्मा दान करने की अपील की जा रही है।