विनोद खन्ना करियर के पीक पर बन गए थे सन्यासी, लौटे तो अपने से 16 साल छोटी लड़की से की दूसरी शादी, दिलचस्प है कहानी

जब विनोद खन्ना का करियर पीक पर था तो उन्होंने संन्यासी बनने का निर्णय लिया। विनोद खन्ना ने दो शादियां कीं थी और वे तीन बेटे और एक बेटी के पिता भी थे। आइए जानते हैं विनोद खन्ना के लाइफ से जुड़ी कुछ जरूरी बातें-
बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेताओं में से एक विनोद खन्ना की आज पुण्यतिथि है। पाकिस्तान के पेशावर में जन्में विनोद खन्ना का अप्रैल, 2017 में कैंसर के चलते निधन हो गया था। एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में देने वाले विनोद खन्ना जब अपने करियर के पीक पर थे, तभी उन्होंने संन्यासी बनने का निर्णय ले लिया था। विनोद खन्ना ने दो शादियां की थीं और तीन बेटों और एक बेटी के पिता भी थे। पहली पत्नी गीतांजली से अक्षय और राहुल खन्ना हुए और दूसरी पत्नी कविता से बेटा साक्षी और बेटी श्रद्धा हैं।

आइए जानते हैं विनोद खन्ना की लाइफ से जुड़ी दिलचस्प बातें-

विनोद खन्ना सन्यासी क्यों बनें? विनोद खन्ना 1982 में अपना करियर और परिवार छोड़ ओशो की शरण में चले गए थे। उन्होंने कई साल तक खुद को सभी चीजों से दूर रखा था। एक इंटरव्यू के दौरान विनोद खन्ना के बेटे अक्षय खन्ना ने उनके सन्यासी बनने को लेकर कहा था, जब मेरे पिता को लगा उन्हें सन्यासी बनना चाहिए तो वह बनें। जब उन्होंने यह फैसला लिया था तो मैं सिर्फ पांच साल का था इसलिए मुझे यह बात समझ नहीं आई, लेकिन अब मैं समझ सकता हूं।

सन्यासी बनने के कारण हुआ था तलाक:

विनोद खन्ना की पहली पत्नी गीतांजली उनकी कॉलेज की दोस्त थीं। उनके दो बच्चे भी हैं राहुल और अक्षय खन्ना। फिल्मी बीट के मुताबिक, जब अक्षय और राहुल बड़े होने लगे थे तो विनोद खन्ना अमेरिका साधु बनने चले गए थे। इसके बाद लोग तमाम तरह की बात करने लगे थे। हालांकि विनोद खन्ना अपने परिवार से फोन पर बात किया करते थे। सन्यासी बनने के कुछ दिनों बाद से उनके और उनकी पत्नी के बीच दरार आनी शुरू हो गई थी और साधु बनने के तीन साल के अंदर ही विनोद खन्ना का तलाक हो गया।

इंडिया लौटने के बाद की दूसरी शादी:

सन्यासी बनने के कुछ ही साल बाद विनोद खन्ना का ओशो के आश्रम से मन उचट गया और वह इंडिया वापस आ गए थे। जब वह लौट तो उनके पास कुछ भी नहीं था, फिर भी बॉलीवुड ने उन्हें अपनाया। इसी बीच अपने 43वें जन्मदिन पर वे उद्योगपति सरयू दफ्तरी की बेटी कविता दफ्तरी से मिले और काफी वक्त तक एक-दूसरे को जानने के बाद दोनों ने शादी का फैसला लिया। साल 1990 में उन दोनों ने शादी कर ली थी, तब कविता विनोद खन्ना से उम्र में 16 साल छोटी थीं। सन्यासी के बाद विनोद खन्ना की दूसरी शादी की भी खूब चर्चा होती है।

यह भी पढ़ें - 10 फिल्म डायरेक्टर्स, जो शादीशुदा होने के बावजूद हिरोइन को दिल दे बैठे