सड़क हादसे में फिल्म डायरेक्टर की मौत, पहली रिलीज का कर रहा था बेसब्री से इंतजार

अपनी पहली ही फिल्म की रिलीज का बेसब्री से इंतजार कर रहे नवोदित फिल्ममेकर अरुण प्रसाद (Arun Prasath) की एक रोड-एक्सिडेंट में मौत हो गई.
तमिल फिल्म इंडिस्ट्री (South Indian Film Industry) के एक बेहद प्रतिभावान नवोदित फिल्ममेकर अरुण प्रसाद का निधन हो गया. इसके बारे में जाने-माने फिल्म निर्देशक शंकर ने ट्वीट कर शोक व्यक्त किया. यह बेहद दुखद बात है कि अपनी पहली ही फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे फिल्ममेकर नहीं रहे. उन्होंने कई फिल्मों में तमिल फिल्म इंडस्ट्री के बड़े डायरेक्टर्स को असिस्ट किया है. लेकिन शुक्रवार को कोयंबटूर के मेट्टूपलायम में एक सड़क हादसे का शिकार हुए. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार फिल्म डायरेक्टर बाइक से जा रहे थे. अचानक उनकी बाइक एक लॉरी से जा टकराई. इसमें उनकी मौके पर ही मौत हो गई.
यह भी पढ़ें -  मां की जीरॉक्स हैं ये बॉलिवुड ऐक्ट्रेसस, कुछ तस्वीरें तो आपका सिर घुमा देंगी
साउथ इंडियन फिल्म इंडस्ट्री के सबसे बड़े फिल्म डायरेक्टर शंकर ने इस बारे में ट्वीट किया, "युवा फिल्म डायरेक्टर अरुण प्रसाद के असामयिक निधन की खबर सुनकर दिल बैठ गया है. वो मेरा असिस्टेंट रह चुका था. वो बेहद सरल, सकारात्मक सोच रहने वाला और बहुत ही ज्यादा मेहनती था. उसके परिवार और दोस्तों के लिए भागवान से प्रार्थना करूंगा कि उन्हें ऐसे मौके पर साहस दें."

बता दें कि शंकर वही फिल्म डायरेक्टर हैं जिनकी रोबोट, आई, इंडियन, नायक, शिवाजी द बॉस जैसी फिल्में बनाई है. शंकर को असिस्ट करने वाले नवोदित डायरेक्टर अरुण ने काफी समय तक बड़-बड़े डायरेक्टर्स को असिस्ट करने के बाद अब अपनी फिल्म बनाई थी. फिल्म का नाम 4G है. इसमें मुख्य भूमिका में जीवी प्रकाश कुमार हैं.
इस फिल्म को साल 2016 में ही अनाउंस किया गया था. लेकिन इसे थ‌िएटर में रिलीज को लेकर समय नहीं मिल पा रहा था. ऐसे में फिल्मकार अपनी पहली रिलीज का बहुत ही बेसब्री से इंतजार कर रहे थे. जीवी प्रकाश कुमार ने कहा कि वो सकारत्मकता से भरा हुआ था. उसकी पहली फिल्म की रिलीज को लेकर इतनी परेशानियां आ रही थीं लेकिन वो सकारात्मक रहता था. अचानक उसकी मौत की खबर से सभी सदमे मे हैं.

यह भी पढ़ें -  46 की उम्र में अर्जुन कपूर के बच्चे की मां बनना चाहती हैं मलाइका ?